भारत के नंबर 1 सामान्य ज्ञान पोर्टल पर आपका स्वागत है जिसे सैकड़ो किताबों के निचोड़ से बनाया गया है इसके अलावे प्रतिदिन आपको करेंट अफेयर्स,जॉब अलर्ट का सबसे पहले जानकारी देता है और बहुत जल्द ही Bank ,SSC ,Railway & Other Exams का टेस्ट प्रतिदिन आयोजित किया जा रहा है जो बिलकुल फ्री होगा जिससे आप अपने तैयारी की प्रतिशतता जाँच सके |
करेंट अफेयर्स

.

► हाल में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'स्वच्छता ही सेवा-2019' अभियान की शुरुआत किस शहर से किया ?

A)मथुरा

B)वाराणसी

C)इलाहबाद

D)हरिद्वार

     उत्तर:-A)मथुरा

     महत्वपूर्ण तथ्य

  • 12 सितंबर 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मथुरा में स्वच्छता पर एक व्यापक देशव्यापी जागरूकता अभियान - स्वच्छता ही सेवा - 2019 का शुभारंभ किया.
  • इस अभियान को 11 सितंबर से 2 अक्टूबर, 2019 तक आयोजित किया जायेगा.
  • इस अभियान के शुरू करने का मुख्य उदेशय महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर भारत को प्लास्टिक कचरे से मुक्त बनाना है.
  • इस वर्ष की स्‍वच्‍छता ही सेवा का विषय "प्‍लाटिक अपशिष्‍ट प्रबंधन" है.
  • केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संयुक्त रूप से इस योजना का शुभारंभ किया।

अगला पढ़े:-किसान मानधन योजना की घोषणा

Read More >>
.

► हाल में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों के लिए समर्पित "किसान मानधन योजना" की घोषणा किस राज्य से किया है ?

A)बिहार

B)झारखण्ड

C)असम

D)गुजरात

     उत्तर:-B)झारखण्ड

     महत्वपूर्ण तथ्य

  • हाल में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखण्ड से देश के किसानों के लिए समर्पित किसान मानधन योजना के साथ-साथ खुदरा दुकानदार पेंशन योजना, एकलव्य आवासीय विद्यालय योजना की घोषणा की !
  • इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने साहिबगंज मल्टी मॉडल बंदरगाह एवं झारखंड विधानसभा भवन का उद्घाटन भी किया !

    किसान मानधन योजना

  • इस योजना के अंतर्गत 18 से 40 वर्ष के उम्र के किसानों को उनकी आयु के अनुसार 55 से 200 रुपये प्रति माह पेंशन निधि में जमा करना होगा.
  • इस योजना से जुड़े किसानो को 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद प्रतिमाह 3000 रुपये हर महीने पेंशन मिलेगी.
  • इस योजना के अनुसार किसान के मृत्यु होने पर उसके आश्रित पति या पत्नी को पारिवारिक पेंशन के तौर पर 50 फीसदी मासिक पेंशन मिलेगी.
  • इसके तहत झारखण्ड में पहले चरण में एक लाख किसानों को लाभ देने का लक्ष्य है.

     एकलव्य आवासीय विद्यालय योजना

  • इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कुल 462 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों को देश को समर्पित किया. जिसमे झारखंड को 69 समर्पित किया.
  • आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति के अनुसार 50 प्रतिशत से ज़्यादा जनजातीय आबादी और 20,000 जनजातीय जनसंख्या वाले प्रत्येक प्रखंड (block) में एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय मंज़ूरी है।
  • एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय (EMRS) योजना की शुरुआत वर्ष 1998 में की गई थी
  • इस योजना के तहत प्रथम स्‍कूल का शुभारंभ वर्ष 2000 में महाराष्‍ट्र में हुआ था।

    झारखंड विधानसभा भवन का उद्घाटन

  • इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने 39 एकड़ में 465 करोड़ की लागत से बनी झारखण्ड के नए विधानसभा भवन की उद्घाटन किया !
  • ऐसे देश का पहला पेपरलेस विधानसभा भवन बनाया गया है.
  • इसे 57,220 वर्ग मीटर में बनाया गया है जिसपर 37 मीटर ऊंचा गुम्बद बनाया गया है.
  • मुख्य गुम्बद पर आदिवासी समुदाय की मूल अवधारणा जल, जंगल और जमीन को स्थानीय सोहराय चित्रकारी से प्रदर्शित किया गया है.

     साहिबगंज मल्टी मॉडल बंदरगाह

  • साहिबगंज मल्टी मॉडल बंदरगाह को झारखण्ड में वर्ल्ड बैंक के सहायता से 5369 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है !
  • इसका शिलान्यास वर्ष 2017 में प्रधानमंत्री द्वारा किया गया था
  • इस बंदरगाह से झारखंड के साथ-साथ देश और विदेश में भी रोज़गार एवं व्यापार के नये अवसर पैदा होंगे.

अगला पढ़े:-मैत्री युद्ध अभ्यास-2019

Read More >>
.

► भारत और थाइलैंड के बीच मैत्री 2019 नामक संयुक्त सैन्य अभ्यास का आयोजन भारत के किस राज्य में किया जायेगा ?

A)तमिलनाडु

B)मेघालय

C)नागालैंड

D)मिजोरम

     उत्तर:-B)मेघालय

     महत्वपूर्ण तथ्य

  • भारत और थाइलैंड के बीच मैत्री 2019 नामक संयुक्त सैन्य अभ्यास का आयोजन मेघालय के उमरोई में फॉरेन ट्रेनिंग नोड में आयोजित किया जाएगा.
  • यह अभ्यास 16 सितम्बर से 29 सितम्बर 2019 तक आयोजित किया जायेगा.
  • इस संयुक्त सैन्य अभ्यास का मुख्य उद्देश्य अपने-अपने देशों में आतंकवाद विरोधी कार्रवाइयों के दौरान प्राप्त किए गए अनुभवों को साझा करना एवं आतंकवादी गतिविधियों को रोकना है.
  • इस सैन्य अभ्यास में दोनों देशो के 50-50 सैनिक हिस्सा लेंगे.
  • अभ्यास मैत्री भारत और थाईलैंड के बीच होने वाले वार्षिक सैन्य अभ्यास है जो प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है.
  • अभ्यास मैत्री वर्ष 2006 से आयोजित किया जाता है.
  • इस अभ्यास में दोनों देशो द्वारा युद्ध में इस्तेमाल किये जाने वाले हथियार से सैनिको को परिचय करवाया जाता है.
  • इस संयुक्त सैन्य अभ्यास से भारतीय सेना तथा रॉयल थाइलैंड आर्मी के साथ-साथ दोनों देशो के बीच रक्षा सहयोग बढ़ेगा.

भारत-थाईलैंड सम्बन्ध

भारत और थाईलैंड के बीच राजनयिक संबंध वर्ष 1947 में ही स्थापित किया गया ! दोनों देश एक-दूसरे के साथ अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, अंडमान सागर के समुंद्री सीमा साझा करते है.भारत 2002 में थाईलैंड द्वारा और छह देशों के समूह मेकांग-गंगा सहयोग (MGC) द्वारा शुरू किए गए एशिया सहयोग संवाद (ACD) का सदस्य है। भारत में थाई दूतावास नई दिल्ली में स्थित है, जिसमें मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में तीन वाणिज्य दूतावास हैं। भारत बैंकॉक में अपना दूतावास और चियांग माई में एक वाणिज्य दूतावास रखा है। इसके अलावा, भारत और थाईलैंड सदियों से सांस्कृतिक रूप से जुड़े हुए हैं  बौद्ध धर्म, थाईलैंड का प्रमुख धर्म, भारत से ही उत्पन्न हुआ है। रामायण की हिंदू कहानी पूरे थाईलैंड में रामकिएन के नाम से भी जानी जाती है।

Read More >>

Latest Job Uptodate