भारत के नंबर 1 सामान्य ज्ञान पोर्टल पर आपका स्वागत है जिसे सैकड़ो किताबों के निचोड़ से बनाया गया है इसके अलावे प्रतिदिन आपको करेंट अफेयर्स,जॉब अलर्ट का सबसे पहले जानकारी देता है और बहुत जल्द ही Bank ,SSC ,Railway & Other Exams का टेस्ट प्रतिदिन आयोजित किया जा रहा है जो बिलकुल फ्री होगा जिससे आप अपने तैयारी की प्रतिशतता जाँच सके |
Current Affairs August 2019

.

► राजीव गान्धी खेल रत्न पुरस्कार-2019 के लिए नामित श्री बजरंग पुनिया किस खेल से सम्बंधित है ?

A)एथलीट्स

B)कुश्ती

C)फुटवॉल

D)क्रिकेट

     उत्तर:-B)कुश्ती

     महत्वपूर्ण तथ्य

  • राष्ट्रीय खेल पुरस्कार के तहत राजीव गान्धी खेल रत्न पुरस्कार-2019 के लिए बजरंग पुनिया,कुश्ती और दीपा मलिक,पैरा एथलेटिक्स को चुना गया है.
  • इसके अलावे खेल मंत्रालय ने धयानचन्द्र पुरुस्कार,द्रोणाचार्य पुरुस्कार,एवं अर्जुन पुरुस्कार के लिए भी नामित किया है.

                     राजीव गान्धी खेल रत्न पुरस्कार के बारे में

राजीव गांधी खेल रत्न भारत में दिया जाने वाला सबसे बड़ा खेल पुरस्कार है। इस पुरस्कार को भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी के नाम पर रखा गया है। इस पुरस्कार मे एक पदक, एक प्रशस्ति पत्र और 7.5 लाख रुपय पुरुस्कृत व्यक्ति को दिये जाते है। यह पुरुस्कार 4 वर्षों के दौरान लगातार उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए दिया जाता है। भारत सरकार द्वारा सम्मानित व्यक्तियों को रेलवे की मुफ्त पास सुविधा प्रदान की जाती है.

 

राजीव गान्धी खेल रत्न पुरस्कार सूची-2019

नाम

खेल

श्री बजरंग पुनिया

कुश्ती

सुश्री दीपा मलिक

पैरा एथलेटिक्स

 

                       द्रोणाचार्य पुरस्कार के बारे में

द्रोणाचार्य पुरस्कार, खेलों में उत्कृष्ट कोचों को दिया जाता है। यह पुरस्कार द्रोण के नाम पर रखा गया है, जिसे अक्सर "द्रोणाचार्य" या "गुरु द्रोण" कहा जाता है.  इस पुरस्कार में द्रोणाचार्य का एक कांस्य प्रतिमा, एक प्रमाण पत्र, औपचारिक पोशाक, और 5 लाख का नकद पुरस्कार दिया जाता है। इसकी स्थापना वर्ष 1985 में किया गया था ! यह पुरुस्कार वर्ष में पांच से अधिक प्रशिक्षकों को नहीं दिया जाता है.

 

द्रोणाचार्य पुरस्कार सूची-2019

कोच का नाम

खेल

श्री विमल कुमार

बैडमिंटन

श्री संदीप गुप्ता

टेबल टेनिस

श्री मोहिंदर सिंह ढिल्लों

एथलीटिक्स

 

अर्जुन पुरस्कार के बारे में

अर्जुन पुरस्कार खिलाड़ियों को दिये जाने वाला एक पुरस्कार है जो भारत सरकार द्वारा खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये दिया जाता है। इस पुरस्कार का प्रारम्भ 1961 में हुआ था। पुरस्कार स्वरूप पाँच लाख रुपये की राशि, अर्जुन की कांस्य प्रतिमा और एक प्रशस्ति पत्र दिया जाता है।

 

अर्जुन पुरस्कार सूची 2019

खिलाड़ी का नाम

खेल

श्री तजिंदरपाल सिंह तूर

एथलीटिक्स

मोहम्मद अनस याहिया

एथलीटिक्स

श्री एस भास्करन

बॉडी बिल्डिंग

सुश्री सोनिया लाथेर

मुक्केबाज़ी

श्री रवींद्र जडेजा

क्रिकेट

श्री चिंगलेनसाना सिंह कंगुजम

हॉकी

श्री अजय ठाकुर

कबड्डी

श्री गौरव सिंह गिल

मोटर स्पोर्ट्स

श्री प्रमोद भगत

पैरा स्पोर्ट्स (बैडमिंटन)

सुश्री अंजुम मौदगिल

शूटिंग

श्री हरमीत राजुल देसाई

टेबल टेनिस

सुश्री पूजा ढांडा

कुश्ती

श्री फौआद मिर्ज़ा

घुड़सवारी

श्री गुरप्रीत सिंह संधू

फ़ुटबॉल

सुश्री पूनम यादव

क्रिकेट

सुश्री स्वप्ना बर्मन

एथलीटिक्स

श्री सुंदर सिंह गुर्जर

पैरा स्पोर्ट्स (एथलेटिक्स)

श्री भमिदीपति साई प्रणीत

बैडमिंटन

श्री सिमरन सिंह शेरगिल

पोलो

 

ध्यानचंद पुरस्कार के बारे में

ध्यानचंद पुरस्कार, भारत का सर्वोत्त्म खेल पुरस्कार है जो किसी खिलाडी के जीवन भर के कार्य को गौरवान्वित करता है।  इस पुरस्कार का नाम भारत के प्रसिद्ध मैदानी हॉकी के खिलाडी ध्यानचंद सिंह के नाम पर रखा गया है। खेल एवं युवा मंत्रालय द्वारा सन् 2002 से ये पुरस्कार प्रतिवर्ष प्रदान करता है।  इस पुरस्कार में एक प्रतिमा, प्रमाण पत्र, औपचारिक पोशाक और 5 लाख का नकद पुरस्कार शामिल है।

 

ध्यानचंद पुरस्कार सूची 2019

नाम

खेल

श्री मैनुअल फ्रेड्रिकस

हॉकी

श्री अरूप बसक

टेबल टेनिस

श्री मनोज कुमार

कुश्ती

श्रीनितेनकिरतने

टेनिस

श्री सी. लालरेमसंगा

तीरंदाजी

 

अगला पढ़े:- बाबूलाल गौर का निधन

Read More >>
.

► हाल में ही किस राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का निधन हो गया ?

A)झारखण्ड

B)दिल्ली

C)बिहार

D)मध्यप्रदेश

     उत्तर:-D)मध्यप्रदेश

     महत्वपूर्ण तथ्य

  • 21 अगस्त 2019 को मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का निधन 89 वर्ष की अवस्था में हो गया.
  • मध्यप्रदेश सरकार ने बाबूलाल गौर के निधन के बाद राज्य में तीन दिवसीय शोक की घोषणा की है.
  • बाबूलाल गौर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के साथ-साथ भाजपा के वरिष्ठ नेता भी रह चुके थे.
  • बाबूलाल गौर का जन्म 02 जून 1930 को नौगीर ग्राम,उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में हुआ था.
  • वे वर्ष 1946 से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ गए थे.
  • बाबूलाल गौर 'भारतीय मज़दूर संघ' के संस्थापक सदस्य हैं।
  • वे 7 मार्च, 1990 से 15 दिसम्बर, 1992 तक मध्य प्रदेश के स्थानीय शासन, विधि एवं विधायी कार्य, संसदीय कार्य, जनसम्पर्क, नगरीय कल्याण, शहरी आवास तथा पुनर्वास एवं 'भोपाल गैस त्रासदी' राहत मंत्री रहे।
  • बाबूलाल गौर 23 अगस्त, 2004 से 29 नवंबर, 2005 तक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे।

अगला पढ़े:-रवि शास्त्री तीसरी बार भारतीय क्रिकेट टीम का कोच नियुक्त

Read More >>
.

► 16 अगस्त 2019 को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भारतीय क्रिकेट टीम के नए हेड कोच के रूप में किसे नियुक्त किया ?

A)कपिल देव

B)रवि शास्त्री

C)माइक हेसन

D)लालचंद राजपूत

     उत्तर:-B)रवि शास्त्री

     महत्वपूर्ण तथ्य

  • बीसीसीआई के तीन सदस्यीय क्रिकेट सलाहकार समिति (CAC) कपिल देव, अंशुमन गायकवाड़ और शांता रंगास्वामी द्वारा 16 अगस्त 2019 को लगातार तीसरी बार रवि शास्त्री को भारतीय क्रिकेट के हेड कोच नियुक्त किया गया !
  • इस कार्यकाल के तहत रवि शास्त्री वर्ष 2021 तक टीम के कोच बने रहेंगे !
  • रवि शास्त्री पिछले 19 साल के इतिहास में तीसरी बार कोच बनाए गए हैं.
  • बीसीसीआई ने भारतीय टीम के लिए अब तक 16 बार कोच चुने हैं ! जिसमे चार बार विदेशी कोच चुना गया है.
  • रवि शास्त्री के साथ भारतीय क्रिकेट टीम के कोच पद की दौड़ में न्यूजीलैंड के पूर्व कोच माइक हेसन, श्रीलंका के पूर्व कोच टॉम मूडी, वेस्टइंडीज और अफगानिस्तान के पूर्व कोच फिल सिमंस, भारत के पूर्व फील्डिंग कोच रोबिन सिंह और भारत के पूर्व मैनेजर लालचंद राजपूत भी शामिल थे.
  • इससे पहले रवि शास्त्री जुलाई 2017 में दूसरी बार कोच बनाया गया था.
  • भारतीय क्रिकेट टीम के कोच का कार्यकाल 2 वर्ष का होता है.
  • दूसरी बार रवि शास्त्री के कोच बनने के बाद टीम इंडिया ने कुल 60 वनडे मैचों में 43 ,36 टी-20 में से 25 ,21 टेस्ट में 13 में जीत दर्ज की.
  • वर्तमान में भारतीय क्रिकेट टीम के सहायक कोच संजय बांगर है.

रवि शास्त्री के बारे में

रवि शास्त्री का पूरा नाम रविशंकर जयदृथ शास्त्री है.

इसका जन्म 27 मई 1962 मुंबई, महाराष्ट्र में हुआ था.

रवि शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी है।

इन्होने 21 फरवरी 1981 को भारतीय टीम में पदार्पण किया था

रवि शास्त्री भारतीय टीम के लिए वर्ष 1992 में अंतिम क्रिकेट खेला

 इन्होंने अपने क्रिकेट कैरियर में धीमी गति के गेंदबाज और बल्लेबाज की भूमिका निभाई है। इस कारण इन्हें एक ऑल राउंडर के तौर पर जाना जाता था।

 

Read More >>
Latest Job Uptodate